सदियों-पुरानी-परम्परा-धान-के-बालियों-से-बनते-है-सेला-झालर-Bastar-Dhan-Sela

सदियों पुरानी परम्परा, धान के बालियों से बनते है सेला झालर | Bastar Dhan...

0
बस्तर में पके धान की बालियों को आकर्षक तरीके से गूँथ कर वंदनवार बनाया जाता है जिसे ‘सेला’ कहा जाता है जो हल्बी शब्द है। यह बस्तर के बाजारों में सभी...
बस्तर-के-पूर्वज-देवी-देवताओं-के-नाम-Bastar-Ke-devi-Devta

बस्तर के पूर्वज देवी-देवताओं के नाम | Bastar Ke devi Devta

0
बस्तर में देवी– देवताओं की संख्या अनगिनित है, कुछ देवी देवता ऐसे भी हैं जिनका नाम सभी स्थानों पर सुनने को मिलता है परन्तु अधिकांशत प्रत्येक गांव में नए नए देवी...
घोटुल-प्रथा-बस्तर-आदिवासी-Ke-Log-Kaise-Banate-hai

घोटुल प्रथा बस्तर आदिवासी Ke Log Kaise Banate hai ?

0
घोटुल एक तरह का सामुदायिक स्थान को कहा जाता है, जिसमें पूरे गाँव के बच्चे व किशोर सामूहिक रूप से रहते हैं, यह छत्तीसगढ़ के बस्तर, महाराष्ट्र और आंध्र प्रदेश के...
दक्षिण-बस्तर-का-सुप्रसिद्ध-फागुन-मंडई-महोत्सव-दंतेवाड़ा-Fagun-Mandai-Dantewada-Bastar

दक्षिण बस्तर का सुप्रसिद्ध फागुन मंडई महोत्सव दंतेवाड़ा | Fagun Mandai Dantewada Bastar

0
छत्तीसगढ़ का दंतेवाड़ा जिला बस्तर संभाग का हृदय क्षेत्र है. यहां माई दंतेश्वरी का मंदिर, बैलाडिला पर्वत श्रंखला, शंखिनी-डंकिनी और इन्द्रावती नदियां, रेलवे लाईन, लौह अयस्क परियोजना, एज्युकेशन सिटी जैसे कितने...
बस्तर-के-जीवन-में-बांस-का-विशेष-महत्व-Bamboo-In-The-Life-of-Bastar

बस्तर के जीवन में “बांस” का विशेष महत्व | Bamboo In The Life of...

0
बस्तर के जीवन में बांस का विशेष महत्व – बस्तर Bastar में बांस Bamboo बहुतायत में उगता है। यह इस क्षेत्र की जीवन शैली का एक अपरिहार्य हिस्सा रहा है, जिसका...
धार्मिक-व-ऐतिहासिक-स्थल-है-गोबरहीन-का-शिव-मंदिर-Gobrahin-Shiv-Mandair-keshkal

धार्मिक व ऐतिहासिक स्थल है, गोबरहीन का शिव मंदिर | Gobrahin Shiv Mandair keshkal

0
गोबरहीन मंदिर ऐतिहासिक व धार्मिक दृष्टि से महत्वपूर्ण है। बस्तर में विभिन्न राजवंशो जैसे गॅंग, नल , छिन्दक नागवंश , चालुक्य वंश आदि ने कई सालो तक राज किया। इन वंशो...
मामा-भांजा-मंदिर-Mama-Bhanja-Temple-Barsur

मामा-भांजा मंदिर जानिए क्या है इस मंदिर की मान्यता | Mama Bhanja Temple Barsur

0
मामा-भांचा मंदिर Mama Bhanja Temple Barsur आज हम बस्तर की खुबसूरत वादियों में स्थापित मामा-भांचा मंदिर के बारे में जानेगें यह मंदिर जगदलपुर दन्तेवाड़ा मार्ग में गीदम से 23 किमी. दूर...
बस्तर-का-आराध्य-आंगा-देव-Bastar-Aanga-dev

बस्तर का आराध्य है आंगा देव जानिए क्या है मान्यता | Bastar Aanga dev

0
आंगा देव Aanga dev बस्तर के आदिवासी समुदाय के एक देवता हैं, जिसकी पूजा किसी भी शुभ कार्य के पहले की जाती है। आंगा देव को बस्तर का आराध्य भी कहा...
नारायणपाल-विष्णु-मंदिर-Bastar-Narayanpal-Vishnu-Temple

बस्तर में भगवान विष्णु को समर्पित एक मात्र नारायणपाल विष्णु मंदिर | Bastar Narayanpal...

0
नारायणपाल विष्णु मंदिर Narayanpal Vishnu Temple - बस्तर प्राकृतिक संसाधनो से संपन्न यहां की हरी भरी वादियां, नदी पहाड़ झरने अपनी खुबसूरती के कारण पुरे विश्व में अद्वितीय है। ऐसा ही...
जोगी-बिठाई-रस्म-Bastar-Dussehra-Jogi-Bithai

क्यों खास है विश्व प्रसिद्ध बस्तर का दशहरा की जोगी बिठाई रस्म | Bastar...

0
जोगी बिठाई रस्म- बस्तर दशहरा विश्व प्रसिद्ध है. ये दशहरा बिल्कुल सबसे अलग है, जिसे देखने के लिए लोगों भारत के कोने से ही नहीं बल्कि विदेशों से भी आते हैं....

FOLLOW US

1,235FansLike
1,295FollowersFollow
1,576FollowersFollow
975FollowersFollow

POPULAR POST

पपीता खाने के जबरदस्त फायदे आपको हैरत में डाल देंगे –...

0
पपीता के फायदे papita ke fayde पपीता के बहुत सारे फायदे हैं पपीता स्वास्थ्य के लिए बहुत ज्यादा ही लाभकारी है पपीता एक ऐसा...