Home वाटरफॉल खूबसूरत वाटरफॉल, जानें इतना खूबसूरत क्यों है? – Handawada Waterfall

खूबसूरत वाटरफॉल, जानें इतना खूबसूरत क्यों है? – Handawada Waterfall

0
467
खूबसूरत-वाटरफॉल-जानें-इतना-खूबसूरत-क्यों-है-Handawada-Waterfall

हांदावाड़ा जलप्रपात Handawada Waterfall छत्तीसगढ़ के बस्तर bastar  संभाग के नारायणपुर Narayanpur जिले के ओरछा Orchha ब्लॉक के ग्राम  पंचायत हांदावाड़ा के अन्तर्गत करीब 5 किमी की दूर धारा डोंगरी पहाडी पर एक नाला प्रापत के स्वरूप में लगभग 500 फिट उंचाई से गिरता है जिसे हांदावाड़ा जलप्रपात Handawada Waterfall  कहा जाता है।

हांदावाड़ा जलप्रपात को छत्तीसगढ़ का सबसे ऊँचा जलप्रपात माना जाता है। यह बहुत घने वन क्षेत्र में स्थित है। अंतिम गाँव से झरने तक पहुँचने के लिए 5 किमी की दूरी तय करनी पडती है।

इस जलप्रपात के नीचे पहुंचने पर 4 अलग-अलग स्तरों पर प्रपात बनता है। बरसात के दिनों में यह प्रपात अपने पूरे शबाब पर होता है। इस जलप्रपात की आवाज करीब 4 से 5 किमी दूर तक आस पास के पुरे गॉव में  सुनाई देती है। मॉनसून के दौरान इस प्रकृतिक सुंदरता का आनंद ले सकते हैं।

हांदावाड़ा जलप्रपात के बारे में पर्यटन विदों का दावा है कि यह न सिर्फ छत्तीसगढ़ बल्कि देश का सबसे बड़ा जलप्रपात है। लेकिन माओवादी समस्या एंव पहुच विहिन इलाका होने के कारण हांदावाड़ा जलप्रपात पर्यटकों की नजर से ओझल बना हुआ है।

यह भी पढें – बस्तर के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल जँहा सब जाना पंसद करते है 

हांदावाड़ा जलप्रपात Handawada Waterfall तक पहुचने के लिए कोई पक्की सडक नहीं है। इसके लिए दो पहिया वाहन में कच्ची सडक के रास्ते से हांदावाड़ा Handawada पहुचा जा सकता है। ज्यादातर लोग सोचते हैं, दंतेवाड़ा, बीजापुर और नारायणपुर  जिले केवल संवेदनशील गतिविधियों के लिए जाने जाते हैं, लेकिन बहुत कम लोग जानते हैं कि यह जिले कुछ सबसे अधिक विदेशी और सुंदर झरनों, गुफाओं एंव घाटियों का घर हैं । इस जलप्रपात के क्षेत्र में पक्षियों को भी निहार, फोटोग्राफी और मेडिटेशन कर सकते हैं।

दंतेवाड़ा dantewada जिले में बस्तर को अबुझमार का दक्षिणी प्रवेश द्वार माना जाता है। गीदम geedam से 20 किलोमीटर दूर NH -16 पर स्थित, एक रास्ता बारसूर barsur के पास इंद्रावती नदी से हंदवाड़ा जलप्रपात की ओर जाता है। यह रास्ता मैदानी इलाकों से होकर गुजरता है  इसलिए हांदावाड़ा जलप्रपात में वाहनों द्वारा जनवरी से मई माह में ही पहुचा जा सकता है। आधिकारिक तौर पर लोगों यंहा 20 जनवरी के बाद आना शुरू करते है।

कब और कैसे पहुचं सकते है हांदावाड़ा जलप्रपात 

जगदलपुर jagdalpur बस्तर bastar संभाग में  बारसूर दंतेवाड़ा जिले के अंतर्गत आता है  जिसे अबुझमार पर्वत का दक्षिणी द्वार माना जाता है। जगदलपुर से लगभग 77 किमी के बाद NH 16, गिदम जहां से उत्तर में 22 किमी के बाद, बारसूर स्थित है। बारसूर से हांदावाड़ा जलप्रपात इद्रावंती नदी को पार करने के बाद मोटर साईकिल से कच्ची एंव पगडडी वाली सडक से लगभग 25 किमी का सफर तय कर हांदावाड़ा पहुचा जा सकता है। जो नारायणपुर जिले के ओरछा ब्लॉक है। हांदावाड़ा तक पहुचने के लिए कोई पक्की सडक नहीं है चार पहिया वाहनों के लिए गर्मियों का सबसे अच्छा मौसम है। गर्मियों  में इस क्षेत्र में पूरी तरह से छायांकित जंगलों से घिरा हुआ होता है।

यह भी पढें – तीन पहाड़ियों के पीछे छिपी है नीलम सरई जलप्रपात

नारायणपुर जिले का ओरछा ब्लॉक मुख्यालय है। नारायणपुर से लगभग 75 किमी ओरछा ब्लॉक मुख्यालय है और ओरछा से करीब 30 किमी का सफर मोटर साईकिल से भटबेडा गांव तक तय किया जा सकता है। इसके बाद 10 किमी तक सीधी पहाडी को पैदल चढकर कर पार करना पडता है।

इसके बाद लगभग 5 किमी मैदानी क्षेत्र में पैदल चलने के बाद ग्राम पंचायत हांदावाड़ा पहुचते है। इसी ग्राम पंचायत हांदावाड़ा में ही हांदावाड़ा जलप्रपात स्थित है इस तरह ओरछा से हांदावाड़ा जलप्रपात लगभग 45 किमी एंव जिला मुख्यालय नारायणपुर से लगभग 120 किमी तय कर हांदावाड़ा जलप्रपात पहोचां जा सकता है।

निष्कर्ष:-

हांदावाड़ा जलप्रपात Handawada Waterfall बेहद खूबसूरत और विशाल का दिलकश नजारा एंव बेहद सुन्दर नजारा देखने को मिलता है बारिश के दिनों में हांदावाड़ा जलप्रपात Handawada Waterfall अपने पूरे शबाब में होता है।

आपको हांदावाड़ा जलप्रपात Handawada Waterfall की यात्रा एक बार जरूर करनी चाहिए उम्मीद करता हूँ जानकारी आप को पसंद आई है। हो सके तो दोस्तो के साथ शेयर भी जरूर करे। ऐसी ही जानकारी daily पाने  के लिए Facebook Page को like करे इससे आप को हर ताजा अपडेट की जानकारी आप तक पहुँच जायेगी ।
!! धन्यवाद !!

इन्हे भी एक बार जरूर पढ़े :-

हरेली तिहार बस्तर में क्यों खास है जानिए कैसे? 
नारायणपुर जिले की रोचक जानकारी 
कोण्डागॉव जिले की रोचक जानकारी 
टाटामारी केशकाल क्यो प्रसिद्ध है ? जानिएं 
बस्तर का इतिहास के बारे में नहीं जानते होगें आाप

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

%d bloggers like this: