महुआ के अदभुत फायदे – Mahua ke fayde

0
386
महुआ-के-अदभुत-फायदे-Mahua-ke-fayde

महुआ के अदभुत  फायदे – Mahua ke fayde आइये आज हम जानते है महुआ का परिचय गुण आयुवेर्दिक उपयोगों के बारे में महुआ Mahua भारत के कई प्रांतो में पाया जाता है महुआ Mahua का व़क्ष काफी लंबा चौडा होता है।

गुजरात और बस्तर में बहुत ज्यादा होता है इसके पत्ते बादाम के पत्ते के तरह होते है पत्तो के मोटे एंव चौडे होने के कारण इनके पत्तल बनाई जाती है महुआ की लकडी बहुत ही मजबूत होती है इस कारण इसका प्रयोग इमारत बनाने एंव फर्नीचर बनाने में किया जाता है।

इसके फल सफेद होते है इनका आकार बादाम से थोडा छोटा होता है कई जगह इसके फूलो को खाने के काम में लाया जाता है इसके फूलों में एक मादक खुशबू होती है और इसका फल भी बहुत ज्यादा मिठा होता है।

महुआ Mahua के फल से कई तरह से मादक द्रव बनाये जाते है और ऐ द्रव काफी सस्ते में मिलता है इस द्रव का उपयोग दिन भर की थकान को मिठाने के लिए करते है मगर ऐसा करना स्वास्थ्य के लिए बहुत हानिकारण है क्यूकि कोई भी मादक द्रव अपने तरफ से उर्जा प्रदान नहीं करता है।

महुआ से डायबिटीज गठिया और बावासीर से मिलेगा छुठकारा

महुआ Mahua के बारे में महुआ खाने से डायबिटीज घटिया औरबवासीर से मिलेगा छुटकारा मध्य प्रदेश और उत्तर भारत के जंगलों में पाया जाता है जिसे लोग महुआ Mahua के नाम से जानते हैं लोग अलग-अलग तरीके से इस्तेमाल करते हैं कुछ लोग फूलों को सुखाकर रोटी या हलवे में भी इस्तेमाल करके खाते हैं।

इसके अलावा फूलों को जानवरों के लिए पोषक आहार माना जाता है महुआ का वैज्ञानिक नाम मधुका लॉन्गीफोलिया (Madhuca Longifolia) है महुआ Mahua के पेड़ के कई स्वास्थ्य लाभ है इसमें कई गुण मौजूद होते हैं इसके अलावा इसकी छाल पत्तियां और फूल भी बहुत गुणकारी होते हैं महुआ के फूल पीले सफेद रंग के होते हैं।

यह भी पढें – नीम के फायदे – neem ke fayde

महुआ मार्च से अप्रैल के महीने में मिलते हैं फूलों में प्रोटीन शुगर कैल्शियम फास्फोरस और वसा होता है दोस्तों इस का इस्तेमाल कई स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज में किया जाता है महुआ Mahua कई तरह से सेहत के साथ उसके लिए बहुत फायदेमंद है लेकिन कई लोगों का उपयोग मादक पदार्थ बनाने के लिए करते हैं इसके अलावा चिकित्सा साबुन डिटर्जेंट और त्वचा की देखभाल इन सब के लिए किया जाता है।

महुआ के स्वास्थ्य लाभ

महुआ Mahua के स्वास्थ्य लाभ के बारेमें जिन लोगों को डायबिटीज यानी मधुमेह की समस्या है उनकी एक बहुत ही गुणकारी औषधि है लाभदायक होता है दांतों के दर्द से छुटकारा दांतो से संबंधित समस्याओं में आप महुआ Mahua का इस्तेमाल कर सकते हैं।

महुआ की टहनी और छाती के दर्द में फायदेमंद होते है दांतो में दर्द और मसूड़ों से खून निकल रहा है तो आप महुआ की छाल से निकलने वाले ड्रेस के साथ थोड़ा पानी मिलाकर इस पानी से गरारे करें दांतो के दर्द से भी आपको राहत मिलती है।

गठिया रोग के इलाज में दोस्तों महुआ की छाती अल्सर और गठिया इन सब के लिए इस्तेमाल की जाती है इसके लिए आप काढ़ा बनाकर हर रोज नियमित रूप से सेवन करें इससे फायदा मिलेगा इसके अलावा आप सूजन को कम करने के लिए महुआ की छाल को पीसकर गर्म करके इसका लेप लगा सकते हैं।

महुआ Mahua के बीज का उपयोग कर सकते हैं आप इससे मालिश भी कर सकते हैं ऐसा करने से गठिया रोग के इलाज में बहुत ही मदद मिलेगी महुआ से बवासीर और आंखों से संबंधी बीमारी के लिए महुआ के फूल बवासीर में बहुत ही फायदेमंद है।

आप इसकी फूलों को घी में भूनकर रोगी को इसे नियमित रूप से खिलाते हैं इससे आपको बहुत ही फायदा मिलेगा फूलों का शहर आंखों में लगाने से आपकी आंखों की भी सफाई होती है आंखों की रोशनी भी तेज होती है।

आंखों से पानी आने और आंखों में खुजली होने पर इलाज के तौर पर भी इससे बना शहद गुणकारी होता है सर्दी खांसी और दर्द से राहत महुआ Mahua के फूल कृमि नाशक और कब से राहत देने वाले होते हैं।
 

महुआ Mahua की फूल की तासीर ठंडी होती है इसके फलों और फूलों पोलिंग एजेंट और स्वास्थ्यवर्धक रानी के रूप में प्रयोग किया जाता है लेकिन फिर भी इसके फूलों को सर्दी जुखाम खांसी ब्रोक आईटी और अन्य पेट से संबंधित विकारों के इलाज में इस्तेमाल किया जाता है इसकी छाल से बने कांटे को पीने से दस्त की समस्या भी दूर हो जाती है।

इसके बीजों का इस्तेमाल दवा के तौर पर किया जाता है इसका इस्तेमाल निमोनिया समस्या के लिए भी कर सकते हैं इसके पेड़ की छाल त्वचा को मुलायम बनाने में बहुत ही मदद करती है नंदी रोग यानी एग्जिमा में भी इसका प्रयोग किया जाता है बल्कि त्वचा के इलाज के लिए भी किसका प्रयोग किया जाता है।

इसके लिए आप लोगों की पत्तियों में तिल का तेल लगाएं और गर्म करें इन धरण पत्तियों को आप अपनी त्वचा के उस हिस्से में लगाए जहां पर आप हो खुजली और दाने निकले हैं इन पत्तों से एग्जिमा प्रभावित हिस्से की सिकाई करने से आपको बहुत फायदा मिलेगा इसके अलावा मुद्दों के फूलों का सेवन करने से महिलाओं में दूध उत्पादन की क्षमता में भी वृद्धि होती है।

महुआ का उपयोग अल्सर से बचाव के लिए करें

महुआ Mahua खाने के फायदे  चिकित्सा के क्षेत्र में पेट में छाले या घाव बनने की स्थिति को अल्सर या पेप्टिक अल्सर के नाम से जाना जाता है।  मुख्य रूप से अल्सर छोटी आंत के ऊपरी भाग व आहार नली में होता है।

इस स्थिति में व्यक्ति की पाचन क्रिया काफी धीमी हो जाती है और किसी भी चीज को पचाने की क्षमता खत्म सी हो जाती है। अल्सर के मरीज यदि महुआ के फूलों का इस्तेमाल खाने में करें तो इससे उन्हें काफी लाभ मिल सकता है। महुआ के फूल पेट में एसिड को बनने से रोकने का काम करती है।

दोस्तो आपको महुआ के फायदे – Mahua ke fayde के बारें में पता नहीं था होगा तो महुआ के फायदे – Mahua ke fayde की जानकारी आपको कैसे लगा ऐसे ही जानकारी Daily पाने के लिए आप हमें FacebookPage को Like करें इससें आप को हर रोज ताजा अपडेट की जानकारी आप तक पहुचं जायेगी।

!! धन्यवाद !!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here